Monday, May 14, 2007

छोटा मुँह बड़ी बात-२ (क्षंणिकाएं)

प्रजातंत्रता

जिस देश में
कभी पति,कभी पत्नी
कभी उसका बेटा
फिर बेटे का बेटा
नेता बनेगा।

उस देश के मतदाता
महामूर्ख हैं।

वह देश
प्रजातंत्रता
कैसे जनेगा?


सुरक्षा

भ्रष्ट वोटर
हमेशा
भ्रष्ट नेता को
जिताएंगें ।
तभी तो वह
अपनी
सुरक्षा पाएंगें।


वफादार

उसे अपने
मालिक से
प्यार है।
बहुत
वफादार है।

इसी लिए
वह जब भी
अपने मालिक को
देखता है
दुम हिलाता है।

इसी लिए
कुत्ता कहलाता है।

5 comments:

  1. बाली जी;
    बहुत सुन्दर लिख है. अगली किस्त कब दे रहे हैं?

    ReplyDelete
  2. प्रजातंत्रता
    भाजी तुसी ते कमाल ही कर दिता,बिल्कुल साफ़ सुथारा सच बोल दिया,

    ReplyDelete
  3. बेहतरीन. सच बोलने में क्या मूँह का साईज देखना. बढ़िया है.. :)

    ReplyDelete
  4. ठीक कह रहे हैं ।
    घुघूती बासूती

    ReplyDelete
  5. आपकी सभी क्षणिकाएँ सत्य के दर्शन कराती हैं। और लिखी इतनी सरल गई हैं कि समझ में भी आसानी से आ जाती हैं। बधाई!!!!!!

    ReplyDelete

आप द्वारा की गई टिप्पणीयां आप के ब्लोग पर पहुँचनें में मदद करती हैं और आप के द्वारा की गई टिप्पणी मेरा मार्गदर्शन करती है।अत: अपनी प्रतिक्रिया अवश्य टिप्पणी के रूप में दें।